विषैले और गैर विषैले सांप के बीच जाने अंतर




By Tushar Gupta Posted on: 10/02/2024


सांप दुनिया के सबसे जहरीले जानवरों में शामिल है।अक्सर आपने देखा होगा कि, शहरों और गांवों में  सांप को देखते ही लोग घभरा जाते हैं।लेकिन क्या आपको पता है कि,सभी सांप जहरीले नहीं होते हैं।अगर आप कोशिश करें तो सांप को देखते ही पहचान लेंगे की सांप जहरीला है या नहीं।
तो चलिए आपको बताते हैं कि,कैसे पता करें की कौन सा सांप जहरीला है।

सांप की पुतलियों से पता चलेगा...
जानकारी के मुताबिक विषैले सांप की पुतलियां ज्यादातर कटी हुई या अंडकार होती है।साथ ही अधिकतर विषैले सांप की पुतलियां बिल्ली की तरह कटी,काली और ऊर्ध्वाधर होती हैं।जो पीले-हरे नेत्रगोलक से घिरी होती है।विषैले सांपो का सिर त्रिकोणीय होता है,और सिर पर एक गड्डा सा होता है। थूथन पर दो गड्डे होते हैं।इसलिए कहा जाता है कि,सांप के मरने के बाद उसका सिर नहीं छुना चाहिए।

गैर विषैले सांप
गैर विषैले सांपों की पुतलियां गोल आकार होती है।साथ ही इनका सिर भी गोल होता है।आपको बता दे कुछ गैर विषैले सांप अपने सिर को चपटा करके गैर विषैले सांपों के त्रिकोणीय आकार की नकल करते हैं, ताकि श‍िकारी उनका शिकार ना कर पांए।

सांपो के व्यवहार से पता चलता है...
सांप विषैला है या नही ये उनका व्यवहार भी बताता है, जैसे कि, विषैला सांप क‍िसी को करीब आते देखते हैं, तो जोर से फुफकार मारते हैं। यानी वे डराने की कोश‍िश करते हैं। इसके साथ वह पूंछ तेजी से ह‍िलाने लगते हैं, अधिकत्र विषैले सांप पानी के करीब रहना पसंद करते हैं।लेकिन भारतीय सांपों को व्‍यवहार अलग होता है। भारतीय सांप गर्म जगहों पर भी रहते हैं। वहीं भारत में मिलने वाले ज्‍यादातर विषैले सांप पीले, भूरे और काले रंग के होते हैं।