मैं 'भारत रत्न' स्वीकार करता हूं पूर्व उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी 




By Tushar Gupta Posted on: 03/02/2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पूर्व उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी को भारत रत्न देने का निणर्य लिया है।जिसके बाद लाल कृष्ण आडवाणी का पहला रिएक्शन आया है। उन्होंने कहा कि, यह न केवल एक व्यक्ति के रूप में मेरा, बल्कि उन आदर्शों और सिद्धांतों का भी सम्मान है, जिनका पालन करने का मैंने प्रयास किया।
मैंने अपनी पूरी क्षमता से जीवन भर सेवा की है 
लाल कृष्ण आडवाणी ने लिखा "अत्यंत विनम्रता और कृतज्ञता के साथ, मैं 'भारत रत्न' स्वीकार करता हूं. यह न केवल एक व्यक्ति के रूप में मेरे लिए सम्मान है, बल्कि उन आदर्शों और सिद्धांतों का भी सम्मान है जिनसे मैंने अपनी पूरी क्षमता से जीवन भर सेवा की है."उन्होंने कहा, जब से मैं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में उसके स्वयंसेवक के रूप में शामिल हुआ हूं. तब से जीवन में मुझे जो भी कार्य सौंपा गया है, मैंने उसे निस्वार्थ किया."।
मुझे और पूरे परिवार को बहुत खुशी है
लाल कृष्ण आडवाणी की बेटी प्रतिभा आडवाणी ने पिता को भारत रत्न मिलने पर कहा, "मुझे और पूरे परिवार को बहुत खुशी है. निश्चित ही आज मुझे जिसकी सबसे ज्यादा याद आ रही है वो मेरी मां हैं, जिनका दादा (लालकृष्ण आडवाणी) के जीवन में बहुत बड़ा योगदान रहा है। प्रतिभा ने बताया कि भारत रत्न की घोषणा के बाद जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे फ़ोन पर बात की तो वह बहुत भावुक हो गए थे उनकी आंखों में आंसू थे। प्रतिभा कहती हैं, "दादा जी बहुत भावुक हैं, जब वह तिरंगे को नमन करते हैं तब भी उनकी आंखों में आंसू आ जाते हैं। उनकी कोई सराहना करता है तब भी उनकी आंखों में आंसू आ जाते हैं जब देश की कोई बात आती है तब भी बहुत भावुक हो जाते हैं."। 
लाल कृष्ण आडवाणी ने किया अटल बिहारी वाजपेयी को याद
प्रतिभा आडवाणी ने बताया कि दादा ने इस मौके पर दीनदयाल उपाध्याय (जनसंख्या के संस्थापक) और अटल बिहारी वाजपेयी ( दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री) को भी याद किया।साथ ही प्रतिभा आडवाणी ने बताया कि उनकी मां (प्रतिभा की) को भी आडवाणी जी याद कर रहे थे, क्योंकि उन्होंने उनके पारिवारिक जीवन और राजनीतिक संघर्ष में हमेशा साथ दिया था।